मैथिली शायरी काव्य कोष

  • कविता
  • .-.
  • गजल
  • .-.
  • शायरी
  • .-.
  • गीत
  • .-.
  • मोनक के बात
  • .-.
  • अहिं हमर जान छी बिभा
  • .-.
  • नाटक चुटकुला हंसी मजाक
  • .-.
  • sachinkumarmandal141@gmail.com
  • .-.https://twitter.com/sachinmaithil79

Thursday, 31 August 2017

गजल ~हमर प्रीत अमर क दिय

"मैथिली शायरी काव्य कोश"
>>>>>>>>>>>> ' गजल ' <<<<<<<<<<<<< . बिभा,{ हमर प्रीत अमर क दिय } ,बिभा.

ठोर स छुक आहा हमर गीत अमर क दिय !
बैन जाऊ हमर मित आहां हमर प्रीत अमर क दिय !! 


नै उम्र के सीमा होई , नै जन्म के होइ बंधन !
जं प्रेम करै कोई त देखै केवल मन !!
नबका रीत चलाक आहां ई अमर क दिय !!! 


आकाश जका सुनसान हमरा अकेला मन में !
पायल छनका क आहां आईब जाऊ हमरा जीवन में !!
साँस दक अपन आहां संगीत अमर क दिय !!! 


दुनिया छीन लेल हमरा सं , जे भी कुछ लागल हमरा निक !
सब कोई जीतल हमरा सं , हम हर मोर प हारली !!
आहां हाइर क दिल अपन हमर जीत अमर क दिय !!!
हमर जीत अमर क दिय ......... !!


ठोर स छुक आहा हमर गीत अमर क दिय !
बैन जाऊ हमर मित आहां हमर प्रीत अमर क दिय !!
हमर प्रीत अमर क दिय ........!!



 "मैथिली शायरी काव्य कोश"

"मैथिली शायरी काव्य कोश"

        शब्द रचना :
….. @सचिन कुमार मैथिल
 
__ "घर_ आमाटोल

__" पोस्ट_ बिरपुर

__" थाना_ बासोपट्टी

__" जिला_ मधुबनी                     

__" मिथिला, बिहार                                       

__" Date :- 31/08/2017                                    
__" Mo. 9576381126   

Friday, 25 August 2017

चौरचन पाबैन,


Image may contain: food
 No automatic alt text available.







  "मैथिली शायरी काव्य कोश"
 
भादव मासक शुक्ल पक्षक चतुर्थी तिथिमे साँझखन चौठचन्द्र केर पूजा होइत अछि 
 जकरा लोक चौरचन पाबनि कहै छथि। 
एहि बेर इ पावनि ५ सितम्बर के अछि। 
पुराणमे प्रसिद्ध छै जे चन्द्रमा के एहि दिन कलंक लागल छलनि। 
तेँ एहि समयमे हुनख दर्शनकेँ दोषापूर्ण मानल जैत अछि। 
मान्यता अछि जे एहि समयक चन्द्रमाक दर्शन करबापर कलंक लगैत अछि।
तें एहि दोषक निवारण करबाक लेल अपना मिथिला में"सिंह: प्रसेन" वला मन्त्रक पाठ कैल जैत अछि।
चंद्रमा के दर्शन नै करब ई मिथिला सँ भिन्न प्रान्तक व्यवहार थिकै। 
मिथिलामे भादवक इजोरियाक चौठमे मिथ्या कलंक नै लागय ताहि हेतु रोहिणी सहित चतुर्थी चन्द्रक पूजा होइत छैक।
चौरचन आ गणेश उत्सवक अशेष शुभकामना ओ बधाइक संग !!
जय मिथिला जय मैथिल जय मैथिली !!

 "मैथिली शायरी काव्य कोश"



"मैथिली शायरी काव्य कोश"

        शब्द रचना :
….. @सचिन कुमार मैथिल
 
__ "घर_ आमाटोल

__" पोस्ट_ बिरपुर
__" थाना_ बासोपट्टी
__" जिला_ मधुबनी                     
__" मिथिला, बिहार                                       
__" Date :- 25/08/2017                                    
__" Mo. 9576381126   

Sunday, 20 August 2017

Nari ke Samman नारी के वर्णण



 

         
































*****  किरण बहन **** 

---- ---- ---- --- नारी ---- ---- ---- ----
***************×***************


बेटी-बहिन-पत्नी आ माय बनि,
जे हर रूप मे अछि उपकारी।
धरती पर ईश्वरक वरदान,
देवी रूप मे अछि नारी।

बेटी अछि बापक अरमान,
बहिन अछि भायक सम्मान।
पत्नी होइत अछि पतिक मुस्कान,
माय बेटाक शरीरक प्राण।                             

जीवन मे सभक अपन महत्व छै,
सभ मिल बनेलक दुनियाँदारी।
धरती पर इश्वरक वरदान,
देवी रूप मे अछि नारी।

परेशानी नहि बेटी देख सकैए,
बहिन नहि देखि सकै बेचैन।
पत्नी समाधान मे लागय,
माय छोड़ै छै अन्न आ पानि।
सभ रूप मे मदति करैत अछि,
सभ रूप मे अछि हितकारी।
धरती पर इश्वरक वरदान,
देवी रूप मे अछि नारी।

बेटी अछि बापक दुलार,
बहिन अछि भायक प्यार।
पत्नी पति केँ श्रृंगार,
माय अछि बेटाक जीवनक आधार।
चारु जिनगीक पहिया छै,
जेना चारि पहिया पर चलै गाड़ी।
धरती पर इश्वरक वरदान,
देवी रूप मे अछि नारी।


__ सचिन कुमार मैथिल
घर_ आमाटोल
पोस्ट_ बिरपुर
थाना_ बासोपट्टी
जिला मधुबनी (बिहार 847225)
Mo :-+91 9576381126



Image may contain: 1 person, text

                                     __ सचिन कुमार मैथिल  भाई जी

Monday, 14 August 2017

कन्हैया तेरे चरणों में !


कन्हैया तेरे चरणों में !    __ सचिन कुमार मैथिल   -"आमाटोल बासोपट्टी"  ( बिहार )



__ सचिन कुमार मैथिल http://www.apanmithilaa.com/

#जन्माष्टमी_की_हार्दिक_हार्दिक_बधाई_आ_शुभकामनाएं !!

कन्हैया तेरे चरणों में !

मुझे मिल गए चारो धाम
कन्हैया तेरे चरणों में !
मेरे जीवन की हो शाम
कन्हैया तेरे चरणों में
मुझे मिल गए.....

मन ये श्री चरणों में लगाऊ
मुख से राधा राधा मैं गाऊँ
बस करती रहूँ प्रणाम
कन्हैया तेरे चरणों में !
मुझे मिल गए........

श्यामा तेरी चरण रज पाऊँ
अब मैं तेरी दासी हो जाऊँ
सेवा करती रहूँ सुबह शाम
कन्हैया तेरे चरणों में !
मुझे मिल गए........

तेरे चरणों की हो सेवा प्यारी
श्यामा भोरी मेरी बरसाने वारी
बस लगा रहे ये ध्यान
श्याम तेरे चरणों में !
मुझे मिल गए........

जिस पर तेरी कृपा हो जावे
तेरा नाम तब मुख से गावे
फिर करता रहे गुणगान
कान्हा तेरे चरणों में !
श्री राधे तेरे चरणों में
श्री श्यामा तेरे चरणों मे !
!! जय हो बरसाने वाली की !!

हम सचिन कुमार मैथिल के तरफ स सब गोटे के जन्माष्टमी की हार्दिक हार्दिक बधाई आ शुभकामनाएं !!

 Image may contain: 4 people, people sitting and indoor


__ सचिन कुमार मैथिल
__ "आमाटोल बासोपट्टी"
हम_ सचिन कुमार मैथिल
घर_ आमाटोल
पोस्ट_ बिरपुर
थाना_ बासोपट्टी
जिला मधुबनी (बिहार 847225)
Mo :- 9576381126